Ads (728x90)

दोस्तों के साथ शेयर कीजिये

Advertisement

बच्चों और बड़ों दोनों को पसन्द पाने वाली गुजराती खान्डवी को माइक्रोवेव में और भी आसानी ने बनाया जा सकता है क्योंकि माइक्रोवेव में न तो खान्डवी के घोल को चलाते रहना पड़ता और इसमें गुठले पड़ने का डर रहता है.

आवश्यक सामग्री -
  • बेसन - 1 कप (100 ग्राम)
  • दही- 1 कप (200 ग्राम)
  • हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
  • तेल- 2-3 टेबल स्पून
  • हरी मिर्च - 2 बारीक काटी हुई
  • करी पत्ता - 8-10
  • हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच से आधी
  • हींग - 1 पिंच
  • राई - 1/2 छोटी चम्मच
  • तिल - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - 3/4 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
विधि -
मिक्सर जार में दही, बेसन और 2 कप पानी डालकर एकदम चिकना घोल तैयार कर लीजिए(घोल को प्याले में फैट कर भी तैयार कर सकते हैं). घोल को माइक्रोवेव सेफ प्याले में डालिये, नमक, हल्दी, हींग और 1 टेबल स्पून तेल डाल कर मिक्स कीजिए.
प्याले को माइक्रोवेव में रख कर 2 मिनिट के लिए माइक्रोवेव कर लीजिए. प्याला बाहर निकालें और अच्छे से चला दीजिए. प्याले को फिर से माइक्रोवेव में रखिये, और 2 मिनट के लिये माइक्रोवेव कीजिये. बाहर निकालें और अच्छी तरह से चलाएं. फिर से 2 मिनिट माइक्रोवेव कर लीजिए फिर से बाहर निकालें और अच्छे से चलाएं. 
फिर से 1 मिनिट के लिए माइक्रोवेव कर लीजिए (घोल को 7 मिनट माइक्रोवेव किया है) प्याले को बाहर निकालें और घोल को अच्छे से चलाएं. खांडवी बनाने के लिए घोल तैयार है. 
घोल फैलाने के लिए थाली या ट्रे ले लीजिये, थाली में तेल लगाने की आवश्यकता नहीं है, खांडवी के घोल को थाली या ट्रे में पतला पतला फैला दीजिये, घोल को पलटे की सहायता से एकदम पतला फैला दीजिये.
10-15 मिनिट में यह मिश्रण ठंडा हो कर जम जाता है, इस जमी हुई परत को चाकू की सहायता से 6 इंच लम्बी 2 इंच चौड़ी पट्टियाँ में काट लीजिये और इन पट्टियों का रोल बना लीजिये, सारे रोल को थाली में लगा दीजिये. 
अब छोटी कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, हरी मिर्च को लम्बाई में काट लीजिए. गरम तेल में राई डाल दीजिये, राई भूनने पर इसमें तिल, करी पत्ता और हरी मिर्च डालिये और हल्का सा भून लीजिये. इस मसाले मिले तेल को चम्मच की सहायता से खांडवी के ऊपर डाल दीजिये. हरे धनिये और नारियल से सजाइये.
माइक्रोवेव में बनी बहुत ही अच्छी खान्डवी तैयार है, खान्डवी को अपनी मनपसन्द चटनी के साथ खाइये और परोसिये.

सुझाव:
बेसन के घोल को बिलकुल चिकना होने तक घोले, गुठलियां बिलकुल नहीं रहनी चाहिये.
Advertisement

शेयर कीजिये : Comment Now

loading...

यहाँ अपना कमेंट करें -

एक टिप्पणी भेजें